Main Menu

ताजमहल पर इतना बवाल क्यों ? केसे शुरू हुआ बवाल देखिये पूरी रिपोर्ट

ताजमहल विवाद दिनोदिन और बढ़ता जा रहा है क्या है पूरा विवाद ? केसे शुरू हुआ विवाद ? क्या है राजनेताओ की प्रतिकिर्या देखिये इस रिपोर्ट में

ताजमहल को लेकर क्या विवाद है?

ताजमहल को लेकर ताजा विवाद बीजेपी विधायक संगीत सोम के बयान के बाद शुरू हुआ है. संगीत सोम ने ताजमहल को “भारतीय संस्कृति पर एक धब्बा” बताया है. उन्होंने कहा, ”हम किस इतिहास के बारे में बात कर रहे हैं? ताजमहल के निर्माता (शाहजहां) ने अपने पिता को कैद कर दिया था. वह हिंदुओं को समाप्त करना चाहता था. यदि ये लोग हमारे इतिहास का हिस्सा हैं, तो यह हमारे लिए बहुत दुख की बात है और हम इस इतिहास को बदल देंगे.” याद रहे कि शाहजहां ने नहीं, औरंगजेब ने अपने पिता शाहजहां को कैद किया था.

योगी आदित्यनाथ –

मंगलवार को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘हमें इसके तह में जाने की जरूरत नहीं है, कि ताजमहल क्यों बना, किसने बनाया, किस उद्देश्य के लिए बनाया, महत्पूर्ण ये है कि ताजमहल भारत के मजदूरों की खून-पसीने की कमाई से बना हुआ है. वह अपनी वास्तु के लिए जग विख्यात है. वह एक पुरातात्विक इमारत है. उसका संरक्षण, संवर्धन, पर्यटन की दृष्टि से उसको बढ़ावा देने और वहां आने वाले पर्यटकों की सुविधा और सुरक्षा का दायित्व उत्तर प्रदेश सरकार का है. हम लोग उसका निर्वहन करेंगे.’

संसद और राष्ट्रपति भवन गुलामी की निशानियां इन्हें भी गिरा दो: आजम खान

संगीत सोम के बयान पर उनका नाम लिए बिना प्रतिक्रिया देते हुए आजम खान ने बीजेपी पर हमला बोला. आजम खान ने कहा, “मैं किसी को जवाब नहीं दे रहा हूं क्योंकि गोश्त के कारखाने चलाने वालों को राय देने का अधिकार नहीं है. इस पर मोदी और योगी जी फैसला करेंगे लेकिन मैं यह कहना चाहता हूं कि उन सभी इमारतों को गिरा देना चाहिए जिनसे कल के शासकों की बू आती है.”

क्या लाल किले पर तिरंगा नहीं फहराएंगे मोदी?

संगीत सोम के बयान का AIMIM के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने भी विरोध किया है. ओवैसी ने कहा, ”ओवैसी ने कहा है कि लाल किला को भी गद्दार ने ही बनाया है तो क्या पीएम मोदी लाल किला पर तिरंगा नहीं फहराएंगे?”

अनिल विज –

ताजमहल पर हरियाणा के एक मंत्री ने इस मामले में अपनी राय जाहिर की है। हरियाणा के विज्ञान और तकनीकी मंत्री ने अनिल विज ने ताज महल को एक खूबसूरत कब्रिस्तान बताया है।

खट्टर सरकार में मंत्री अनिल विज ने ट्वीट कर लिखा, ‘ताज महल एक खूबसूरत कब्रिस्तान है।’ इसे घर में रखना अपशगुन माना जाता है।

उन्होंने आगे कहा कि चाहे कितना भी खूबसूरत क्यों  हो लेकिन ताज महल एक खूबसूरत कब्रिस्तान है।


परेश रावल –

इस विवाद पर अब बॉलीवुड एक्टर और बीजेपी सांसद परेश रावल भी कूद पड़े हैं।

परेश रावल ने एक ट्वीट कर कहा कि ताजमहल प्रेम की निशानी है लेकिन लोगों ने उसे नफरत की निशानी बना दिया है।

Pmo India – 

बीजेपी ने निजी राय बता कर किया बचाव –

बीजेपी नेता जीवीएल नरसिंह राव ने सोमवार को यह कहते हुए संगीत सोम का बचाव किया कि नेता को अपनी राय देने का हक है. राव ने आगे कहा “भारतीय इतिहास को विकृत करने का प्रयास किया गया है यह स्मारक बर्बरता का प्रतीक है, जहां तक संगीत सोम का संबंध है, उनके पास बोलने की स्वतंत्रता है यह उनका व्यक्तिगत दृष्टिकोण है और प्रत्येक वक्तव्य पर पार्टी लाइन की आवश्यकता नहीं है.”

{bol24.com जल्द ही इस खबर को अपडेट करेगा }





Related News

Leave a Reply

Your email address will not be published.

shares
%d bloggers like this:
Skip to toolbar