Main Menu

तेलंगाना एनकाउंटर: पुलिस को हाईकोर्ट का आदेश 9 दिसंबर तक शवों को सुरक्षित रखे

6 दिसंबर की सुबह तेलंगाना पुलिस द्वारा चार बलात्कार के आरोपियों के एनकाउंटर किये जाने पर हाईकोर्ट में मानव अधिकार संगठनों ने याचिका दायर की हैं जिसके बाद हाईकोर्ट ने आदेश दिया हैं की पुलिस 9 दिसंबर तक अभियक्तो के शवों को सुरक्षित रखे.

हैदराबाद से करीब 50 किलोमीटर दूर महबूब नगर ज़िले के चटनपल्ली गाँव में शुक्रवार सुबह हुए एनकाउंटर में मारे गए चारों अभियुक्तों को एक वेटनरी डॉक्टर से रेप और उनकी हत्या के मामले में गिरफ़्तार किया गया था.

मानव अधिकार आयोग द्वारा कोर्ट में याचिका दाखिल किये जाने के बाद हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को दिए निर्देश में कहा है, “चारों अभियुक्तों के शवों को नौ दिसंबर की रात आठ बजे तक सुरक्षित रखा जाए.” साथ ही कोर्ट ने ये भी  कहा हैं की शवों के पोस्टमार्टम के वीडियो भी कोर्ट में पेश किये  जाए.

पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में क्या कहा ?

6 दिसंबर को सुबह 5:45 से 06:15 के बीच पुलिस ने चार बलात्कार के आरोपियों का एनकाउंटर किया था.  पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा की जब पुलिस चारो आरोपियों को क्राइम लोकेशन पर लेकर गयी तो दो आरोपियों ने पुलिस से हथियार छीनकर पुलिस पर हमला कर दिया जिसके बाद पुलिस ने अपनी आत्मरक्षा के लिए जवाबी कार्यवाही करते हुए चारो को मार गिराया। पुलिस ने कहा आरोपियों ने पुलिस पत्थर लकड़ी और अन्य तरीके से भी पुलिस पर आक्रमण किया। पुलिस ने कॉन्फ्रेंस में बताया की मुठभेड़ में दो पुलिस कर्मियों को भी चोट आई हैं.






Related News

error: Content is protected !!
Don`t copy text!